ATM Full Form - एटीएम का पूरा नाम क्या है ?

आज के समय में एटीएम का उपयोग बहुत बड़ गया है, एटीएम एक ऐसी मशीन है जिससे हम आसानी से पैसे निकल सकते हैं बो भी बिना बैंक की लाइन में खड़े तो आज हम ऐसे ही कुछ जानकारी आपको देने बाले हैं जिसमे हम आपको बतायेगें की "ATM Full Form, एटीएम का पूरा नाम क्या है, ATM का full form" अगर आपने कभी इस अध्भुत मशीन को इस्तमाल किआ होगा तो आप ये जरूर जानते होंगें की ये मशीन हमारे लिए कितनी उपयोगी है.
ATM Full Form - एटीएम का पूरा नाम क्या है ?
ATM Full Form
हमारे भारत में बैंक से पैसे निकालने के लिए लाइन में लगना पड़ता है इस तरह से टाइम की बहुत हानि होती है. हमारी सरकार हमारे लिए बहुत प्रकार की सुबिधा प्रदान करती है जिनका लाभ उठा कर हम अपने टाइम की बजट कर सकते हैं लेकिन कुछ लोग टेक्निकल प्रॉब्लम और एरर की बजह से टेक्नोलॉजी सर्विसेज को उपयोग नहीं करना चाहते हैं इसलिए भारत सरकार सभी सुबिधाओं को पूरी सुरक्षा के साथ प्रदान करती ही. इसलिए सरकार ने "ATM" नाम की एक मशीन को सभी बैंकों में लगाया है जिसकी बजह से हमको बैंको की लाइन में खड़े होने की जरुरत नहीं है. आज हम आपको "ATM Full Form" के बारे में बता रहें है जिसमे आपको जानने को मिलेगा की एटीएम का पूरा नाम क्या है और इसे किसने बनाया।

ATM Full Form - एटीएम का पूरा नाम क्या है ?

ATM Full Form होता है "Automated Teller Machine" और हिंदी में एटीएम का पूरा नाम "स्वचालित टेलर मशीन" होता है. इसको इसलिए इस तरह का नाम दिया गया है क्योंकि ये सेल्फ स्टार्ट मशीन होती है आप इस मशीन के जरिये खुद ही पैसे निकाल सकते हैं. 
एटीएम को हिंदी में क्या कहते हैं
अगर हम बैंक में पैसे निकालने जायेगें तो आपको लाइन में खड़ा होना पड़ेगा और आपको आपके बैंक अकाउंट में से निकालने के लिए बैंक करमचारी होगा जो आपका पैसा निकालेगा लेकिन एटीएम मशीन यानी की Automated Teller Machine में आपको कोई भी लाइन  में खड़े होने की जरुरत नहीं है आप अपना एटीएम कार्ड मशीन में लगाकर अपना पिन और अमाउंट डालकर पैसे निकल सकते हैं. 

"Automated Teller Machine" ATM History - एटीएम किसने बनाया 

दोस्तों एटीएम में इतने सारे फीचर्स है जिससे आप अपने बैंक अकॉउंट को आसानी से एक्सिस कर सकते हैं. इसे जिसने भी बनाया है उसने इसे बनाने में में कितना सोचा होगा. उसने क्या सोच कर "Automated Teller Machine" का निर्माण किआ होगा। आपके मन में ये सवाल जरूर आते होंगें तो इन सभी सवालो का जबाब दूंगा।

"Automated Teller Machine" का मशीन यानि की ATM को आटोमेटिक बैंकिंग मशीन, कैश पाइंट, होल इन द वॉल, बैंनकोमैट जैसे नामों से यूरोप, अमेरिका, भारत व रूस जैसे देशो में जाना जाता है. ये लगभग सभी देशों में उपलब्ध है.
ATM Full Form इन हिंदी
इस मशीन का निर्माण और उपयोग सर्व प्रथम कहा हुआ इसका कथित उलेख्य नहीं मिलता है लेकिन इसके कुछ आकड़े मौटे मौर, लंदन और न्यूयॉर्क में सबसे पहले इससे प्रयोग में लाए जाने के उल्लेख मिलते हैं और ये हो भी सकता है. ये मशीन भारत में बहुत आखरी में आयी आयी है जब बड़े देश इसका उपयोग कर चुके थे.

1960 के दशक में इसे बैंकोग्राफ के नाम से जाना जाता था। कई दावों के आधार पर सबसे पहले प्रायोगिक तौर पर 1961 में सिटी बैंक ऑफ न्यूयॉर्क ने न्यूयॉर्क शहर में ग्राहकों की सेवा में चालू किया था। वैसे ग्राहकों ने उस समय तब इसका  उपयोग करना थोड़ा बिचित्र लगा तो इसे अस्वीकृत कर दिया गया। इस कारण 6 महीने के बाद ही इसे हटा लिया गया। इसके बाद टोक्यो, जापान में 1966 में इसका उपयोग हुआ। आधुनिक एटीएम की सबसे पहली पीढ़ी का प्रयोग 27 जून, 1967 में लंदन के बार्केले बैंक ने किया और उस समय तक कुछ ही ग्राहकों को इसकी सेवा का लाभ मिल पाया था। 
एटीएम फुल नाम, एटीएम को हिंदी में क्या कहते हैं, एटीएम
उस समय में आज के एटीएम कार्ड के बजाए क्रेडिट कार्ड के जरिए इसकी सेवाओं का उपयोग किया जाता था। इसके पहले ग्राहक कॉमेडी एक्टर रेग वरने बने थे और सर्वप्रथम एटीएम का उपयोग उन्ही ने किआ. इंग्लैंड ने प्रयोग में लाई गई मशीन के आविष्कार का श्रेय जॉन शेपर्ड को जाता है क्योंकि इन्ही ने Automated Teller Machine की पक्की नीव राखी और उस दिन के बाद आज तक एटीएम को कभी unsuccessful करार नहीं दिया गया। इसके विकास में इंजीनियर डे ला रूई का भी महत्त्वपूर्ण योगदान है। वर्तमान एटीएम मशीनें इंटरबैंक नेटवर्क से जुड़ी होती हैं। यह नेटवर्क पीयूएलएसइ, पीएलयूएस आदि नामों से जाने जाते हैं। सरकार इसकी सुरक्षा से लेकर सेफ्टी तक के सारे फंडे इस्तमाल करती है जिससे इसमें कोई स्कैम न हो सके.

दोस्तों मैंने आपको ऊपर ATM Full Form, एटीएम का पूरा नाम क्या है, के बारे में बताया और अब मैं आपको एटीएम के उपयोग और प्रयोग के बारे में बताऊंगा की Automated Teller Machine को इस्तमाल कैसे किआ जाता है. जिससे आप एटीएम से बड़े आसानी से पैसे निकाल सकते हैं.

Automated Teller Machine के प्रयोग और उपयोग 

एटीएम आज के टाइम एक ऐसा जरिया बन गया है जिससे आप बड़े आसानी से पैसे निकाल सकते हैं. दोस्तों एटीएम से पैसे निकालने के लिए पहले आपको अपने बैंक अकाउंट में एटीएम सर्विस एक्टिव करवानी होगी. जब आप एक्टिव करवा लेते हैं तो आपको एक कार्ड मिलेगा और साथ ही में 4 डिजिट का पिन मिलेगा जिसको आप Automated Teller Machine में इन्सर्ट करके पैसे निकाल सकते हैं.
Automated Teller Machine kya hai
ये Automated Teller Machine आपके बैंक अकाउंट से पैसे निकाल कर आपको कैश कर देगी जिससे आपका समय भी बचेगा और आप पैसे भी आसानी से निकाल पायेगें.

आखिरी विचार 

तो दोस्तों ये जानकारी "ATM Full Form - एटीएम का पूरा नाम क्या है " आपको कैसी लगी हम्हे निचे कमेंट करके जरूर बताये और इस आर्टिकल को शेयर जरूर करे. 

Post a Comment

0 Comments